Registrations are open for Win Win Series | Apply Now |
Registrations are open for Win Win Series | Apply Now
Success Stories
वाई सी एल जैसा कोई नहीं
जैतारण पाली के निवासी प्रमोद पुत्र श्री ढगलाराम ने बताया कि जब मेरा बड़ा भाई वाई सी एल से कोचिंग पा कर IIT में चयनित हुआ तो मुझे भी IIT में जाने की प्रेरणा मिली और मेने भी YCL को चुना | YCL में नियमित कक्षाओं के साथ यहाँ का अनुशासन, स्टडी मेटेरियल , टेस्ट सीरीज तथा यहाँ के टीचर्स के पढ़ने का तरीका ,सब कुछ मेरी अपेक्षा से भी अच्छा और प्रेरित करने वाला मिला | उसी का परिणाम है कि मुझे 12वीं कक्षा के साथ IIT दिल्ली में प्रवेश मिला और अब में कह सकता हूँ कि YCL जैसा कोई नहीं | इस के लिए मेरे बड़े भाई भारत तंवर का शुक्रगुज़ार हूँ जिन्होने मुझे YCL में प्रवेश दिलवाया | मेरी सफलता के लिए माता पिता , यादव सर , सम्पूर्ण YCL टीम को नमन करता हूँ |

प्रमोद कुमार, आई आई टी, दिल्ली
आई आई टी, चैन्नई में प्रवेश पाकर सपना हुआ साकार
प्रताप नगर जोधपुर के निवासी रमेश पंवार ने बताया कि आज YCL के मार्गदर्शन के कारण मेरे तीनो बच्चे कामयाब हुए | मेने यादव सर से मिलकर जाना कि YCL में उच्च स्तरीय पढ़ाई के साथ संस्कारों का अनूठा संगम है | मेने पहले अपने बड़े बेटे इंद्रजीत का दिलाया जो अब NIT श्रीनगर में अध्ययनरत है | उसके पश्च्यात हितेश पंवार तथा हेमंत को YCL में प्रवेश दिलाया हेमंत का 12 वीं के साथ आई आई टी, चैन्नई में प्रवेश हुआ इसके लिए यादव सर तथा सम्पूर्ण YCL टीम बधाई के पात्र है |

हेमंत पंवार ,आई आई टी , चैन्नई
12 वीं के साथ आई आई टी, कानपुर में प्रवेश मिलना मेरे लिए बड़ी बात हैं
जोधपुर निवासी राकेश पुत्र श्री किशनाराम ने बताया कि 12 वीं के साथ आई आई टी , कानपुर में प्रवेश मिलना मेरे लिए बड़ी बात हैं और में खुले दिल से कह सकता हूँ कि यह बिना YCL के सम्भव नहीं था | यादव सर हमेशा विद्यार्थियो को कुछ बड़ा करने के लिए प्रेरित करते हैं

राकेश पुत्र श्री किशनाराम, आई आई टी, कानपुर
All Right Reserved With YCL, Copyright (c) 2018